Sunday, June 16, 2024

Dharma News : ज्येष्ठ मास में होंगे ये बड़े पर्व-त्योहार, यहां जानें सबकुछ

रायपुर : वैशाख मास की समाप्ति बौद्ध पूर्णिया के साथ हो चुकी है. हिन्दू पंचाग के मुताबिक, ज्येष्ठ माह भगवान सूर्य देव को पूरी तरह समर्पित होता है. माना जाता है कि इस माह में सूर्य देव अधिक बलवान होते है. इस वजह से इस माह में भीषण गर्मी पड़ती है. इसके साथ यह महीना सूर्य की पूजा और अर्चना के लिए भी बेहद महत्वूर्ण बताया गया है. ऐसे में इस महीने अपरा एकादशी, गायत्री जयंती, गंगा दशहरा, वट सावित्री व्रत जैसे कई व्रत और त्योहार है।

आज से ज्येष्ठ मास की शुरुआत

बता दें कि ज्येष्ठ मास की शुरुआत 24 मई 2024 दिन शुक्रवार से हो रही है. यह माह 21 जून तक रहने वाला है. 22 जून से आषाढ़ माह की शुरुआत हो जाएगी. इस महीने में जल दान का अधिक महत्व बताया गया है.धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक इस माह में भूजल का स्तर अधिक नीचे चला जाता है इसलिए इस माह में जल की बर्बादी बिल्कुल भी न करें।

इस माह में करें सूर्य देव की पूजा, मिलता है आशीर्वाद

ज्येष्ठ माह पूजा,पाठ और अनुष्ठान के लिर अति महत्वपूर्ण बताया गया है. इस माह में सूर्य देव की पूजा करने से आरोग्यता का आशीर्वाद मिलता है और ऐसा करने से परिवार सुख समृद्धि से परिपूर्ण रहता है। तो आइए जानते है ज्येष्ठ मास में कौन-कौन से प्रमुख व्रत है।

26 मई 2024- एकदंत संकष्ठी चतुर्थी व्रत
30 मई 2024- मासिक कालाष्टमी व्रत
1 जून 2024- हनुमान जयंती (तेलुगु) व्रत
2 जून 2024- अपरा एकादशी व्रत
4 जून 2024- मासिक शिवरात्रि व्रत
6 जून 2024- शनि अमावस्या,वट सावित्री पूजा
10 जून 2024- विनायक चतुर्थी व्रत
11 जून 2024- स्कन्द षष्ठी व्रत

14 जून 2024- मासिक दुर्गा अष्टमी व्रत
15 जून 2024- मिथुन संक्रांति व्रत
16 जून 2024- गंगा दशहरा व्रत
17 जून 2024- गायत्री जयंती व्रत
18 जून 2024- निर्जला एकादशी व्रत
19 जून 2024- ज्येष्ठ प्रदोष व्रत
21 जून 2024- ज्येष्ठ पूर्णिमा व्रत

Latest news
Related news