Thursday, July 25, 2024

Bastar Lok Sabha Election: मतदान के लिए नक्सलगढ़ में तैनात होंगे 60 हजार जवान, ड्रोन से होगी सुरक्षा की निगरानी

रायपुर। कल यानी 19 अप्रैल 2024 (शुक्रवार) को छत्तीसगढ़ के नक्सलगढ़ यानी कि बस्तर (Bastar Lok Sabha Election) में पहले चरण का मतदान होना है। ऐसे में बस्तर लोकसभा में होने वाले चुनाव को लेकर निर्वाचन आयोग ने भी अपनी तैयारियां पूरी कर ली हैं। इस संबंध में मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी रीना बाबासाहेब कंगाले ने जानकारी देते हुए बताया कि बस्तर में होने वाले प्रथम चरण के लोकसभा चुनाव के लिए लगभग 60 हजार सुरक्षा बल तैनात रहेंगे, जिसमें 350 कंपनी सेंट्रल की फोर्सेज होंगी।

इसके साथ ही 300 कंपनी स्टेट पुलिस की होगी। यानी की कुल मिलाकर 650 कंपनी सुरक्षा बलों की तैनात की जाएगी। इतना ही नहीं तैनात सुरक्षा बलों के माध्यम से एरिया डोमिनेशन, डीमाइनिंग और ड्रोन से भी निगरानी रखी जा रही है।

मतदान की तैयारियां पूरी- रीना बाबासाहेब कंगाले

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने पहले चरण के मतदान की तैयारियों को लेकर कहा, 19 अप्रैल को बस्तर लोकसभा का मतदान होना है। मतदान को लेकर तैयारियां लगभग पूरी कर ली गई हैं। बस्तर लोकसभा क्षेत्र में 1961 मतदान केंद्र हैं, जिसमें 1957 मुख्य मतदान केंद्र और 4 सहायक मतदान केंद्र बस्तर लोकसभा में बनाए गए हैं। बस्तर लोकसभा चुनाव में 11 प्रत्याशी हैं, जिसमें 3 मानयता प्राप्त राजनीतिक दल के और 6 रजिस्ट्रीकृत राजनीतिक दलों के प्रत्याशी, गैर मान्यता प्राप्त प्रत्याशी की संख्या 2 हैं।

रीना बाबासाहेब कंगाले ने बताया कि आठ विधानसभा क्षेत्रों कोंडागांव, नारायणपुर, जगदलपुर, चित्रकूट, दंतेवाड़ा, कोंटा और बीजापुर में मतदान का समय सुबह 7:00 से 3:00 बजे तक रहेगा। इसके अलावा बस्तर (Bastar Lok Sabha Election) और जगदलपुर विधानसभा में मतदान का समय सुबह 7:00 से 5:00 तक होगा।

आईजी बस्तर ने दी जानकारी

वहीं पहले चरण के मतदान की तैयारियों पर IG बस्तर पी सुंदरराज ने कहा, 19 अप्रैल 2024 को बस्तर सीट पर मतदान होना है। चुनाव को सुरक्षित तरीके से सम्पन्न कराने के लिए बस्तर में STF, DRG, बस्तर फाइटर्स, सीआरपीएफ, आईटीबीपी जैसे अन्य सुरक्षाबल के जवान तैनात रहेंगे। जिस प्रकार 2023 के विधानसभा चुनाव में अधिक से अधिक संख्या में मतदाताओं ने मतदान केंद्रों तक पहुंचकर वोट डाले थे, उसी तरह 2024 के लोकसभा चुनाव में बिना किसी डर से वोट डाला जाएगा।

उन्होंने कहा कि बस्तर क्षेत्र में सुरक्षा, शांति और विकास सभी की जिम्मेदारी है। इस जिम्मेदारी को समझकर सभी मतदाता वोट डालें। सभी बस्तरवासी बिना किसी डर, भय के निर्भीकता के साथ उत्साहित होकर वोट डालने के लिए मतदान केंद्र जरूर जाएं।

बस्तर में मतदाताओं की संख्या

इसके साथ ही मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी रीना बाबासाहेब कंगाले ने जानकारी दी कि बस्तर लोकसभा क्षेत्र में 2019 के चुनाव में कुल मतदाताओं की संख्या 13 लाख 77 हजार 935 थी। ये संख्या लोकसभा 2024 में बढ़कर 14 लाख 72 हज़ार 207 हो गई है। ऐसे में देखा जाए तो बस्तर में पिछले लोकसभा चुनाव की तुलना में मतदाताओं की संख्या 94 हजार 272 बढ़ गई है।

बस्तर (Bastar Lok Sabha Election) लोकसभा क्षेत्र में कुल मतदाताओं की संख्या 14 लाख 72 हजार 207 है, जिसमें पुरुष मतदाताओं की संख्या 7 लाख 476 है। जबकि महिला मतदाताओं की संख्या 7 लाख 71 हजार 678 है। वहीं थर्ड जेंडर मतदाताओं की संख्या 52 है। इसके साथ ही 18 से 19 आयु वर्ग के मतदाताओं की संख्या 47 हजार 10 है। दिव्यांग मतदाता 12 हजार 703 हैं। 85 प्लस आयु वर्ग के मतदाताओं की संख्या 3487 है। 100 वर्ष आयु प्लस वर्ग के मतदाता 119 है। सेवा मतदाता 1603 है। लिंगाअनुपात 1102 है। प्रति मतदान केंद्र औसत मतदाताओं की संख्या 870 बताई गई है.

Latest news
Related news